अगर आप को कोई पूजा सामग्री नहीं मिल रही है तो हमे इस (8949408835) नंबर पर संपर्क करे |

Pure parad shivling gold converted mercury shivling 90 gm

Product Code : Parad shivling

$95.00

Pure parad shivling

Quantity

In Stock

Secure online ordering

SHARE

Metal pure mercury para 99% 

Weight 90gm

Size 4cm 

Mercury is the divine metal in the universe it removes all types of negativities .This Parad shivling is  made of pure mercury with 8 sanskar  it will not leave black colour when you rub it and if you put it in water under sunlight within 10 to 20 minutes  shivling surface will turn gold . 

What is the 8 sanskar -  sanskar is the 8 purification stage of mercury by doing them mercury  free from 3 dosh - vish dosh, mal dosh and agni dosh and become divine metal.

Vish dosh of mercury - there is poison in unpurified mercury which called vish dosh this is the first step of sanskar by doing poison removed.

Mal dosh - there is a little quantity of Zink , led and other metal by this sanskar all other metals removed and become clear pure mercury.

Agni Dosh - mercury evaporated temperature is 357 digree celcius because of agni dosh mercury evaporates  below of 357 digree celcius this is called agni dosh .

By 8 sanskar parad shivling free from all dosh and become divine shivling .

Parad shivling benefits- According to Parad granth(sacred book) a mere touch of this parad shivlingam, will bestow on the worshiper the goodness of Shiv pooja in all the three worlds (triloka) It is believed that acquiring a single parad shivling and worshipped will bestow on the worshiper many blessings. Among them are receiving gold in abundance, getting the benefit of worshipping the ling in all the three worlds and performing several Ashwamegha yagnas. Worship of this ling is believed to cleanse a person of various crimes especially, govadha(cow slaughter), killing a Brahmin, killing a baby and such similar crimes. Worshiping this ling regularly and doing good karma a person can attain salvation or moksha.

Note - all our spiritual products are activated and energized with mantras and pooja before sending to you so not returnable can exchange only

पारद शिवलिंग का महत्व -शास्त्रों और पुराणों के अनुसार भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए सबसे अच्छा तरीका शिवलिंग की पूजा करना माना गया है। शिवलिंग भगवान शंकर की पूजा का अभिन्न अंग है क्योंकि इसकी पूजा किए बिना आपको शिव पूजा का लाभ मिलना मुश्किल है। घर में पारद शिवलिंग की स्थापना एवं पूजा बहुत ही सिद्धिदायक मानी जाती है। इस शिवलिंग की पूजा करने से सभी इच्छाएं जल्दी ही पूरी होती हैं। 1.प्राचीन ग्रंथों में बताया गया है कि पारद शिवलिंग बहुत ही शुद्ध धातु का शिवलिंग माना जाता है जिसका वर्णन एक नहीं बल्कि कई महत्वपूर्ण ग्रथों में मिल जाता है। 2.शिवपुराण में पारद शिवलिंग सम्पूर्ण सृष्टि की उत्पत्ति का कारण माना गया है जिसके कारण ही दुनिया का विस्तार हो रहा है। 3.धार्मिक ग्रंथों के अनुसार बताया गया है कि पारद शिवलिंग इतना लाभकारी है जिसके केवल दर्शन मात्र से ही मनुष्य की इच्छाएं पूरी हो जाती हैं। 4.पारद शिवलिंग की पूजा करने वाले व्यक्ति को स्वास्थ्य, धन-यश, समृद्धि मिलती है और उसके जन्मों जन्म के कष्ट समाप्त होते हैं। 5.पारद शिवलिंग को साक्षात भगवान शंकर का ही रूप माना गया है इसे घर में स्थापित करने से एवं नियमित पूजा करने से हर प्रकार के तंत्र-मंत्र के प्रभाव को नष्ट किया जा सकता है। यह भी पढ़ें- लगातार 21 शुक्रवार कर लें यह काम, होने लगेगी धन की देवी लक्ष्मी जी की कृपा 6.इसकी पूजा के पीछे ऐसी धारणा है कि जो भी व्यक्ति पारद शिवलिंग की पूजा करता है उसकी रक्षा स्वयं भगवान शंकर करते है और उसे लाभान्वित करते हैं। 7.पारद शिवलिंग के श्रद्धा पूर्वक दर्शन करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को जल्दी ही पुण्य फल की प्राप्ति होती है और उसका सम्पूर्ण जीवन सुख-शांति से भर जाता है। 8.व्यक्ति को जीवन में कभी भी किसी चीज़ की कमी के कारण परेशान नहीं रहना पड़ता है सभी देवी-देवताओं की कृपा प्राप्त होती है। 9.पारद शिवलिंग के समक्ष दीपक जलाएं गुलाब के फूल अर्पण करें और किसी भी शिव मंत्र का तीन बार जाप करेंगें तो आपको पूजा का लाभ मिलेगा। 10.पारद शिवलिंग की पूजा करने से व्यक्ति को लंबी आयु और आरोग्य की प्राप्ति होती है साथ ही उसे शारीरिक रोगों से भी मुक्ति मिलती है।